• Tue. Oct 26th, 2021

Campus Beat

Independent Student News Organization

Month: June 2021

  • Home
  • अत्यधिक लोकतंत्र विकास के लिए हानिकारक है

अत्यधिक लोकतंत्र विकास के लिए हानिकारक है

सितंबर 2020 में संसद भवन में केंद्र सरकार द्वारा भारतीय किसानों की आय वृद्धि के हित में तीन कानून पारित किये गए थे, जिसके समर्थन और विरोध की लड़ाई अभी…

कृषि और किसान दोनों ही संकीर्ण राजनीतिक दृष्टि के शिकार हैं

प्रस्तावना भारत एक कृषि प्रधान देश है ऐसी बातें हम ना जाने कितने समय से सुनते आ रहे है। पर क्या भारत का किसान समृद्ध और खुश हैं ?? इस…

Valedictory Ceremony for HPCL at IIM Amritsar

IIM Amritsar held the valedictory session of Executive Program in Data Analytics for HPCL officials on June 28, 2021. The nine-month program that started in August 2020 covered contemporary topics…

8th Convocation at IIM Kashipur to be held on June 30th

The Indian Institute of Management (IIM) Kashipur, which recently completed ten years, will observe its eighth Convocation on June 30, 2021. The event would be conducted virtually keeping in mind the…

कानून का निर्माण बुद्धि द्वारा नहीं बल्कि सत्ता द्वारा होता है।

एक कहावत है कि बहुसंख्यक मूर्ख लोगों की शक्ति को कम करके नहीं आंका जा सकता, हालांकि यहां बात मूर्खता की नहीं है, यह मूल रूप से बहुमत के बारे…

“क्या प्रतिस्पर्धा का बढ़ता स्तर युवाओं के हित में है?”

“देखो, शर्मा जी का बेटा तुमसे हर क्षेत्र में आगे है, सीखो उससे कुछ”, ये वाक्य आज के समय में हमारे समाज का मुख्य प्रेरणा स्रोत माना जाता है या…

लोकतंत्र में सोशल मीडिया की भूमिका

कोविड -19 महामारी के दौरान हमने देखा कि कैसे सोशल मीडिया के जरिए आम नागरिक एक दूसरे की सहायता कर सकते हैं एवं संकट से निपटने में आधुनिक सरकारी  प्रयासों…

ज्ञान एकमात्र अच्छाई है और अज्ञानता एकमात्र बुराई है

प्रस्तावना ज्ञान शब्द सुनते ही मन में एक पढ़ाई सरीखे की छवि बनती है, परंतु ज्ञान का वास्तविक स्वरूप कुछ और है। ज्ञान को शाब्दिक अर्थ में बाटना शायद व्यापक…

‘वैश्वीकरण’ बनाम ‘राष्ट्रवाद’

वैश्वीकरण क्या है? इसमें एक देश अन्य देश के साथ जुड़ाव करता है उस प्रक्रिया को वैश्वीकरण कहते है। वैश्वीकरण वह शब्द है जिसका उपयोग दुनिया की अर्थव्यवस्थाओं, संस्कृतियों और…

बेरोजगारी निवारण का उपाय शिक्षा ही है।

बेरोजगारी क्या है?  बेरोजगारी से आशय है कि अपनी शिक्षा के अनुसार व्यक्ति के पास अपने भरण-पोषण के लिए कार्य ना हो या फिर ऐसा व्यक्ति जिसका कार्य मौसम बदलने…