• Tue. Sep 29th, 2020

Campus Beat

Independent Student News Organization

एक हरामखोर लड़की की दास्ताँ

Suyash Varma

BySuyash Varma

Sep 9, 2020

Disclaimer: The views and opinions expressed in this article are those of the authors and do not necessarily reflect the views of Campus Beat. Any issues, including, offense and copyright infringment, can be directly taken up with the author.

Read Time:3 Minute, 28 Second

बेहूदगी और बेशर्मी की सीमा लांघ चुके हैं हमलोग। राजनितिक एजेंडे के लिए किसी भी हद तक गिर जाने की पद्धति हो गयी है हमारी। कुछ ही दिन पहले महाराष्ट्र के एक मंत्री ने कंगना रनौत को एक हरामखोर लड़की कहा।

संजय राउत जी महाराष्ट्र के एक जाने माने चेहरे हैं। सार्वजनिक मंच पर एक लड़की के लिए अपशब्द का प्रयोग कर देश के लिए कैसा उदाहरण पेश कर रहे हैं आप संजय जी? कंगना की सामाजिक छवि से तो हम चिरपरिचित हैं, पर आपने अपने मानसिक दिवालियेपन का सबूत पेश कर दिया है।

किसी लड़की से आपकी वैचारिक असमानता हो तो वो हरामखोर हो जाएगी?

शायद आप शिव सेना के गौरवशाली इतिहास को भूल चुके हैं. बाला साहब की विचारधारा से तो राजनीतिक लोभ में आप पहले ही विरक्त हो चुके हैं। संस्कृति की रक्षा शिव सेना का मूल उद्देश्य रहा है, महिला का अपमान किस सभ्यता को बढ़ावा दे रहे हैं आप?

गौरतलब है की अगर ये काम किसी बीजेपी या आरएसएस के कार्यकर्ता ने किया होता तो अभी शायद पूरे देश में विश्वयुद्ध सी स्थिति आ जाती। स्वरा भास्कर से लेकर अनुराग कश्यप तक, सोनिआ गाँधी से लेकर बृंदा करात तक, लोग असहिष्णुता और मानवाधिकार हनन की बातें करने लगते।

पर देश शायद इसलिए नहीं एक जुट हो रहा क्यूंकि कंगना राष्ट्रवादी हैं। उन्होंने कभी फ़र्ज़ी के मुद्दों पर आवाज़ नहीं उठायी, देश की संस्कृति और सभ्यता का सम्मान किया।

कंगना राष्ट्रवादी हैं इसलिए उनको हरामखोर कहना जायज़ है, उनका सामाजिक उपहास उड़ाना एक क्रांतिकारी कदम है, उनको बलात्कार की धमकियाँ देना स्वीकार्य है. क्यूंकि महिला अधिकार तो सिर्फ ‘लेफ्ट लिबरल्स’ के लिए बने हैं.

दिलचस्पी की बात ये है की जब संजय जी के वक्तव्य पर विरोध बढ़ने लगा, तो उन्होंने कहा की ‘हरमखोर’ शब्द का मतलब ‘naughty’ होता है और मैंने कंगना को ‘naughty’ लड़की बुलाया था. काफी अच्छी डिक्शनरी पढ़ रहे हैं आप संजय जी.

चिंतनीय विषय है की गूगल को भी नहीं पता की हरामखोर का मतलब ‘naughty’ होता है। शायद सुन्दर पिचाई ठीक से काम नहीं कर रहे हैं।

महिलाओं पर अत्याचार – शारीरिक या मानसिक – एक जघन्य अपराध है। संजय राउत जी राजनितिक विलासता में इतने मदमस्त हो चुके हैं की शायद प्रजातन्त्र की वास्तविक शक्ति का एहसास खो चुके हैं। शायद ये मुद्दा उनकी यादाश्त वापस लाने में मदद करे।

आप कंगना का ऑफिस और घर तोड़ सकते हैं, उनकी हिम्मत नहीं।

7 0
Comments