• Wed. Oct 28th, 2020

Campus Beat

Independent Student News Organization

क्या आप जानते हैं कितने पढ़े लिखे हैं देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद?

Sabana Praween

BySabana Praween

Oct 14, 2020

Disclaimer: The views and opinions expressed in this article are those of the authors and do not necessarily reflect the views of Campus Beat. Any issues, including, offense and copyright infringment, can be directly taken up with the author.

Read Time:2 Minute, 21 Second

कोविंद जी का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को उत्तर प्रदेश के कानपुर देहाट जिले के पारौख गांव में हुआ था । उनके पिता माइकुलल एक भूमिहीन कोरी ( एक दलित बुनाई समुदाय ) से थे जिन्होंने अपने परिवार का समर्थन करने के लिए एक छोटी सी दुकान चलायी।वह पांच भाइयों और दो बहनों में से सबसे कम उम्र के थे । वह एक मिट्टी झोपड़ी में पैदा हुए थे । जब वह केवल 5 वर्ष के थे तब उनके घर पर आग लग गई थी जिसके कारण उनकी माँ कि मृत्यु हो गई थी । कोविंद जी को अपनी प्राथमिक विद्यालय शिक्षा के बाद उन्हें जूनियर स्कूल में भाग लेने के लिए 8 किलो मीटर दूर कानपुर गांव में जाना पड़ता था। उन्होंने कानपुर विश्वविद्यालय के अंतर्गत डीएवी कॉलेज , कानपुर से बी.कॉम और डीएवी लॉ कॉलेज से एलएलबी की पढ़ाई पूरी की ।कानपुर के डीएवी कॉलेज से कानून में स्नातक होने के बाद , कोविंद सिविल सेवा परीक्षा की तैयार करने के लिए दिल्ली गए। 1977 मे वह यूपीएससी सिविल सेवा इस परीक्षा को अपने तीसरे प्रयास पर पास किया। कोविंद जी आईएएस क्लियर करने के बाद वकील बने। 1980 से 1993 तक उच्चतम न्यायालय में केंद्र सरकार के वकील के रूप में कार्य किया। 1977 और 1978 के बीच , उन्होंने भारत के प्रधान मंत्री मोरारजी देसाई के निजी सहायक के रूप में भी कार्य किया । उन्होंने 1993 तक एक वकील के रूप में दिल्ली उच्च न्यायालय और सुप्रीम कोर्ट में अभ्यास किया । उन्होंने नई दिल्ली के फ्री लीगल एड सोसाइटी के तहत समाज महिलाओं और गरीबों के कमजोर वर्गों को सहायता प्रदान की ।

1 0
Comments